Diploma in Electrical Engineering kya hai?

Electrical Engineering एक ऐसा इंजीनियरिंग शिक्षण है जो Electricity,
Electronics or Electromagnetism का इस्तेमाल करने वाले उपकरण Devices
और system के स्टडी और डिजाईन और application से जुड़ा होता है |
और अब इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग बहुत से अलग अलग फील्ड में divide होगया है
जिनमे Computer Engineering, System Engineering, Power Engineering,
Telecommunications, Radio Frequency Engineering, Electronics signal
Processing जैसे बहुत सारे फील्ड सामिल है |
और अगर इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के फील्ड में आप क्लास 10th के बाद
professional course करना चाहते है तो डिप्लोमा course एक बहुत अच्छा option
आप के लिए साबित हो सकता है | तो इस लिए हम आपको इस आर्टिकल में
Diploma in Electrical Engineering kya hai? इसके बारे में विस्तार से बात
करने वाले है |

Diploma in Electrical Engineering kya hai?

Diploma in Electrical Engineering 3 साल के Duration का एक ऐसा course है
जो इंस्टालेशन, मेंटेनेंस, Troubleshooting, Magnetism, Control Systems, Signal
Processing और Telecommunication से डील करता है |

Diploma in Electrical Engineering एक application based subject है जिसका
फोकस practical application कॉन्सेप्ट्स रहता है | इस डिप्लोमा course के syllabus
में
● Electrical Machines
● Elements of Electrical Engineering
● Embedded System
● Transmission and Distribution
● Electrical Installation
ये कोर्स इलेक्ट्रिकल devices और system की स्टडी ऑफर करता है | इस course
की मदद से इलेक्ट्रिकल system को डिजाईन भी किया जा सकता है और डेवेलोप
भी किया जा सकता है |
Course को करने के बाद स्टूडेंट्स के पास इस फील्ड की technical skill और
knowledge आ जाती है और वो इंडस्ट्री में काम करने के लिए क्वालिफाइड और
trainend हो जाते है |इस course के जरिये आप 10th क्लास पास करने बाद अगले
तीन साल बाद जॉब करने के लिए तैयार हो जाते है |
अगर आप course के बाद आगे की पढ़ाई जारी रखना चाहते है और एक अच्छे
फील्ड में करियर बनाना चाहते है तो आप यह course यानिकी Enviornmental
Engineering
भी कर सकते है और अपना feature को सुनहरा बना सकते है |

Admission Criteria in Diploma in Electrical
Engineering


इस course को करने के लिए आपका किसी recognised बोर्ड से क्लास 10th कम
से कम 50% मार्क्स से पास करना जरुरी है |इस क्लास में आपका साइंस और

मैथमेटिक्स subject स्टडीज करना भी जरुरी है | जिनमे 50% मार्क्स भी होने चाहिए |
और हाँ क्लास 10th में आपका कोई भी backlock नहीं होना चाहिए |

Admission Process in Diploma in Electrical Engineering
इस डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन generally मेरिट के आधार पर होता है जो क्लास
10th बोर्ड exam पर आधारित होता है | जबकि कुच्छ कॉलेज Entrance exam के
आधार पर ही इस course में एडमिशन देते है |ऐसे कुच्छ Entrance exam है :
● Assam Polytechnic Admission Test (Assam PAT)
● Common Entrance Test (CET), Delhi
● Joint Entrance Examination Council of Uttar Pradesh (JEECUP)
● Himachal Pradesh Polytechnic Test (HP PAT)
● Madhya Pradesh Pre Polytechnic Test (MP PPT)
● Odisha Diploma Entrance Test (Odisha DET)
● Kerala Polytechnic College Admission Test
● Maharashtra State Board of Technical Education Polytechnic
Entrance (MSBTE)
और अब यहाँ पर एक confusion दूर कर लेते है क्यूंकि अकसर Electrical और
Electronic Engineering courses के बीच में बहुत confusion रहता है तो हम दोनों
डिप्लोमा courses के बीच के फर्क जान लेते है |
Electrical और Electronic Engineering में अंतर
Diploma in Electrical Engineering और Diploma in Electronic Engineering
दोनों ही courses के duration 3 साल के होते है | दोनों ही courses में एडमिशन के
लिए 10th बोर्ड पास करना जरुरी होता है |

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग इलेक्ट्रिकल पॉवर के जनरेशन, Distribution, Storage
और Conversion से डील करती है| जबकि इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग अलग अलग
एलेक्ट्रोंइंक इक्विपमेंट की हेल्प ले कर इलेक्ट्रिकल एनर्जी की designing,
Amplifying और Switching से डील करती है |

Top college for Diploma in Electrical Engineering
● Amity University, Noida
● Quantum School of Technology, Roorkee
● Chandigarh University
● Rameshwaram Institute of Technology, Lucknow
● Lovely Professional University, Jalandhar
● Dr. B.R Ambedkar National Institute of technology (NIT) Jalandhar
● ACMT Polytechnic, New Delhi
● Indian Institute of Knowledge Management (IIKM), Chennai
● Dr. MGR Polytechnic College, Tiruvannamalai
● SSK College, Chennai

इस course की फीस कितनी है ?


अब अगर हम course के फीस की बात करें तो इस course की फीस 30 हजार से
लेकर 5 लाख भारतीय रुपये तक हो सकती है |और फीस में ये वेरिएशन
government और प्राइवेट कॉलेज के अनुसार कुच्छ ऊपर निचे हो सकता है |

Best Companies for Diploma in Electrical Engineers


● Mitsubishi Electric
● Cable Corporation of India LTD.
● Emerson
● Servomax Limited

जैसे कम्पनीज सामिल है | इस course को आप distance education से भी कर
सकते है और distance education provide कराने वाले institute है
● Institute of Engineering and Management Studies, Maharashtra
● Wisdom School of Management, Uttar Pradesh
● Karnataka State Open University, Karnataka
तो एक इलेक्ट्रिकल इंजिनियर के लिए प्राइवेट और government दोनों
इंटरप्राइजेज में बहुत सारी opportunities उपलब्ध है | और इलेक्ट्रिकल
इंजीनियरिंग की requirement तो automobile और टेक्सटाइल इंडस्ट्रीज जैसी
बहुत सारी इंडस्ट्रीज में रहती है |
इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा करने के बाद जॉब शुरू कर सकते है | और
इलेक्ट्रिकल डिजाईन इंजिनियर Technical Trainer, Transform Design Engineer,
Verification Engineer और Field Application Engineer जैसी position पर काम
कर सकते है |

Diploma के बाद क्या करें?


अगर आप डिप्लोमा के बाद आगे पढ़ने का option चुनेगे तो आप को मिलने वाला
करियर स्कोप काफी बेहतर होगा और इसलिए ज्यादा तर स्टूडेंट डिप्लोमा complete
करने के बाद Engineering डिग्री course में एडमिशन लेते है जिसमे आप लेटरल
एंट्री स्कीम से एडमिशन ले सकते है और batchlor डिग्री complete करके
● Maintenance Engineer
● Mechanical Engineer
● Senior Electrical Manager
● Lecturer and Professor

जैसी position पर जब कर सकते है | और 3 से 6 लाख प्रति वर्ष salary earn कर
सकते है | लेकिन अगर डिप्लोमा के बाद डिग्री लेने बजाय short term के जरिये
अपने skill में सुधार करना चाहते है तो आप इस तरह के सर्टिफिकेट courses कर
सकते है जैसे
● Certificate course in CCNA
● Certificate course in Power Electronics
● Certificate course in Hardware Networking
● Certificate course in Robotics and Intelligent System

Diploma के बाद Salary कितनी मिलती है ?

डिप्लोमा करने के बाद मिलने वाली शुरुआती salary 12 हजार प्रति महीने से शुरू
होती है जो 40 हजार रूपये प्रति माह तक बढ़ कर हो जाती है | और ये salary
exprince के साथ Increase भी होती है लेकिन इसी दोगुना होने में 10 साल तक का
टाइम लग जाता है |
जबकि higher स्टडी करने के बाद लगभग 40% तक का Hike आया जाता है | इस
लिए डिप्लोमा करने के बाद higher education लेने ज्यदा बेहतर रहेगा | और इस
तरह Electrical Engineering में डिप्लोमा course कर सकते है | और उसके जरिये
Electrical Engineering फील्ड में अपना करियर बना सकते है | अंत में आप का
सवाल यानिकी Diploma in Electrical Engineering kya hai इसका जवाब मिल
गया होगा |

निषकर्ष:

हमने आपका सवाल यानिकी Diploma in Electrical Engineering kya hai जवाब
दिया है इसके अलावा Admission Criteria in Diploma in Electrical
Engineering, Admission Process, Top college for Diploma in Electrical
Engineering, Diploma के बाद Salary कितनी मिलती है ? इसके अलावा और भी
सवालों के जवाब दिए है |
अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप इसे share जरुर करें और इसके
संबंध में कोई भी सवाल हो तो हमें कमेंट कर के बता सकते है |

लेखक:-


मेरा नाम सोहेल अख्तर है | मैं एक web developer और ब्लॉगर के तौर पर काम
करता हूँ | मैं एक Computer Science का स्टूडेंट हूँ | हमें किसी भी toppic के बारे में
अपने भाषा में लिखने में मज़ा आता है |

Leave a Comment